अमेरिकी फुटबॉल लीग में चले किसान आंदोलन के विज्ञापन के लिए कहां से आया पैसा? पढ़ें पूरी डिटेल

जब से किसान आंदोलन शुरु हुई है तब से देशभर में ही नहीं बल्कि अब तो विदेशों में भी चर्चा शुरु हो गई है। जहां एक तरफ भारत में किसान आंदोलन को लेकर कोई हल निकलता नहीं दिख रहा है तो वहीं विदेशी हस्तियों ने इस मामले में दखल देना शुरु कर दिया है । कृषि कानून को लेकर जहां देश के किसान सड़कों पर है तो वहीं देश के कईं ऐसे संगठन है जो किसानों का समर्थन कर रहे है। इनमें बॉलीवुड़ हस्तियों से लेकर विपक्ष तक में कोई सरकार का साथ दे रहा है तो कोई किसानों का। लेकिन अब इस मामले में सामने आया है वो काफी चौकानें वाला है, दरअसल रिहाना के ट्वीट के बाद किसान आंदोलन को इंटरनेशनल साथ मिला था। लेकिन अब बात सामने आई है कि अमेरिका में हुए फुटबाल लीग में एक विज्ञापन दिखाया गया था। अमेरिकी फुटबॉल लीग में किसान आंदोलन और उस पर रिहाना के ट्वीट को दिखाने वाले विज्ञापन के लिए बड़ी रकम खर्च हुई थी। ऐसे में यह सवाल हर किसी के जेहन में था कि अमेरिकी फुटबॉल लीग ‘सुपर बाउल 2021’ में विज्ञापन को दिखाने के लिए फंडिंग कहां से हुई थी।

यह भी पढ़ें – विचार विशेष : घोड़े की गर्दन पर किसानों की गिरफ्त !
farmer protest ad, farmers protest,
farmer protest ad

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय अमेरिकी बैंकर राज सोढ़ी लायने और उनकी दोस्तों ने विज्ञापन को तैयार किया था। 30 सेकेंड के इस ऐड को नेशनल फुटबॉल लीग की शुरुआत से ठीक पहले प्ले किया गया था। 100 मिलियन से ज्यादा दर्शकों को जोड़ने वाली इस लीग में ऐड को प्ले करने के लिए रकम की क्राउडफंडिंग की गई थी।

क्या दिखाया गया था विज्ञापन में ?

अमेरिकी फुटबॉल लीग में किसान आंदोलन और उस पर रिहाना के ट्वीट को दिखाने वाले विज्ञापन के लिए बड़ी रकम खर्च हुई थी और इस विज्ञापन में भारत में चल रहे किसान आंदोलन की तस्वीरों को दिखाया गया था। इसके अलावा अमेरिकी पॉप सिंगर रिहाना का ट्वीट भी दिखाया गया था। इस वीडियो को अमेरिका में रह रहे शार सिंह ने तैयार किया था। विज्ञापन के प्रसारण के बाद प्रोड्यूसर की ओर से इंस्टाग्राम पर भी शेयर किया गया था। इस ऐड को लेकर काफी विवाद हुआ था और भारत में इस पर सवाल भी खड़े हुए थे। इस विज्ञापन में फ्रेंसों के मेयर की ओर से जारी किया गया एक संदेश भी दिखाया गया था। बता दें कि फ्रेंसो काउंटी अमेरिकी में कृषि के लिए मशहूर है और यहां तमाम कृषि उत्पादों का उत्पादन किया जाता है।

यह भी पढ़ें – नया बजट, नई मंहगाई: ईंधन की कीमतों में 35 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी, जानें अपने शहर की कीमतें
farmer protest ad, farmers protest,
File Image

बता दे कि राज सोढ़ी लायने ने इस ऐड के बारे में बताया है कि उनकी प्लानिंग 8,52,000 अमेरिकी डॉलर जुटाने की थी ताकि अमेरिका के प्रमुख 43 शहरों में विज्ञापन को दिखाया जा सके। लेकिन हम लेट हो गए थे और फिर हमें 10,000 अमेरिकी डॉलर के साथ फुटबॉल लीग को विज्ञापन देना था। इसके लिए हमने ‘GoFundMe’ नाम से क्राउडफंडिंग प्लेटफॉर्म तैयार किया था। इसके जरिए एक ही दिन में 11,123 अमेरिकी डॉलर की रकम जुटाई गई थी। रिपोर्ट के मुताबिक विज्ञपान के लिए 10,000 अमेरिकी डॉलर की ही जरूरत थी और बची हुई रकम को नॉन-प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन ‘Seva For Everyone’ को डोनेट कर दिया गया था।

यह भी पढ़ें – भारतीय सेना ने फिर कर दिखाया बड़ा कारनामा, घाटी में फहराया सबसे ऊंचा तिरंगा !

Leave a Reply