130 महिलाओं को बेचने के आरोप में अफगानी शख्स गिरफ्तार, अमीरों से शादी कराने का झांसा देकर…

अफगानिस्तान में तालिबान की सत्ता में वापसी के साथ ही ये देश महिलाओं के लिए नरक बन चुका है। देश के उत्तरी हिस्से से एक हैरान कर देने वाली खबर आई है। यहां एक शख्स ने 130 महिलाओं को धोखा देकर उन्हें बेच दिया। जिसके बाद तालिबान ने उसे कथित तौर पर गिरफ्तार कर लिया है। तालिबानी अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि आरोपी महिलाओं को गरीबी से बाहर निकालने का लालच देकर शादी कराने का वादा करता था।

तलिबान के प्रांतीय पुलिस चीफ दामुल्लाह सेराज ने बताया, आरोपी की गिरफ्तारी सोमवार को उत्तरी जॉज्जान प्रांत से की गई है। उसने कहा, हम अब भी अपनी जांच के शुरुआती चरण में हैं। हमें बाद में मामले से संबंधित अन्य जानकारी मिलने की उम्मीद है। वहीं जॉज्जान के जिला पुलिस चीफ मोहम्मद सरदार मुबारिज ने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा है कि आरोपी गरीब महिलाओं को निशाना बनाता था। वह उनसे वादा करता था कि उन्हें गरीबी से बाहर निकालेगा।

दूसरे प्रांतों में बेची गई महिलाएं

जानकारी के मुताबिक आरोपी शख्स महिलाओं से कहता था कि उनकी शादी अमीर पुरुषों से कराएगा। फिर उन्हें (महिलाओं को) दूसरे प्रांतों में लाकर बेच दिया जाता था। उसने इसी तरीके से अब तक करीब 130 महिलाओं की तस्करी की है। अफगानिस्तान में अपराध, भाई-भतीजावाद और भ्रष्टाचार कोई नई बात नहीं है लेकिन बढ़ती गरीबी तालिबान सरकार की मान्यता की मांग को कमजोर कर रही है। तीन महीने पहले सत्ता में लौटने के बाद से तालिबान बड़े शहरों में लूट और अपहरण जैसी वारदातों को रोकने की कोशिश कर रहा है।

पासपोर्ट कार्यालय बंद किया गया

इससे पहले तालिबान के आंतरिक मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि पासपोर्ट विभाग के सदस्यों सहित 60 लोगों को पासपोर्ट हासिल करने के लिए जाली दस्तावेज बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। मंत्रालय ने कहा कि वह इसी वजह से काबुल में पासपोर्ट कार्यालय को अस्थायी रूप से बंद कर रहा है। इसे दोबारा कब तक खोला जाएगा, इस संबंध में अभी कुछ नहीं बताया गया है। तालिबान ने इससे पहले सात प्रांतों में पासपोर्ट जारी करने की घोषणा की थी।

Leave a Reply