यूपी चुनाव 2022 से पहले पीएम मोदी के इस कदम का अखिलेश यादव ने किया समर्थन

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Chunav) से ठीक पहले केंद्र की मोदी सरकार (Modi Govt) ने महिलाओं लेकर एक बड़ा कदम उठाया है और लड़कियों की शादी की उम्र 18 से बढ़ाकर 21 साल करने का फैसला लिया है, जिस पर अभी कानून बनना बाकी है. भले ही विपक्ष से लेकर मुस्लिम संगठन सरकार के इस कदम का विरोध कर रहे हैं, मगर उत्तर प्रदेश में बीजेपी को सीधी टक्कर दे रहे सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बाल विवाह संशोधन विधेयक का समर्थन किया है.

एक न्यूज चैनल से बातचीत में बाल विवाह कानून संशोधन विधेयक से जुड़े एक सवाल के जवाब में अखिलेश यादव ने कहा कि यह महिलाओं के लिए अच्छी बात है. बहुत संगठन चाहते थे. मगर उन्होंने सरकार पर सवाल भी उठाया कि आखिर रोजगार का अवसर कब मिलेगा, अगर यह मिलता है तो शायद यह बड़ा काम होगा. बता दें कि सपा ने अब तक खुलकर इस प्रस्ताव का विरोध नहीं किया है. हालांकि, सपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने इस प्रस्ताव का विरोध जरूर किया था, मगर उन्होंने स्पष्ट भी किया था कि यह उनका स्टैंड है, न कि समाजवादी पार्टी का. इससे साफ है कि समाजवादी पार्टी सरकार के इस कदम का विरोध नहीं कर रही.

बता दें कि मंगलवार को लड़कियों की शादी की उम्र 21 वर्ष करने वाला बिल संसद की स्थायी समिति को भेज दिया गया. केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने मंगलवार को लोकसभा में बाल विवाह निषेध (संशोधन) विधेयक, 2021 (The prohibition of child marriage (amendment) bill 2021) पेश किया, जिसमें महिलाओं की शादी की उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल करने का प्रस्ताव है. ईरानी ने बिल पेश करते हुए कहा कि हमने अपने देश के लोकतंत्र में विवाह के लिए महिलाओं और पुरुषों को विवाह के लिए 75 साल की देरी कर दी है. 19C में, महिलाओं के लिए विवाह की आयु 10 वर्ष थी. ’84 में, लड़कियों की शादी 15 साल की उम्र में कर दी गई थी. पहली बार, महिला और पुरुष एक ही समय या उम्र में शादी करने का फैसला ले सकते हैं.

फोटो विवाद पर अखिलेश ने क्या कहा

मोहन भागवत संग मुलायम सिंह यादव की तस्वीर वाले विवाद पर अखिलेश यादव ने कहा कि एक ही फोटो बीजेपी और कांग्रेस दोनों ने ट्वीट किया,

लेकिन ये लोग वह तस्वीर भूल गए, जिसमें शरद पवार जी खड़े हैं और सुप्रिया सुले को आशिर्वाद दे रहे हैं.

शिवपाल संग गठबंधन पर अखिलेश

शिवपाल संग गठबंधन को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि क्षेत्रीय दलों के साथ गठबंधन अच्छा है, जहां पर भी क्षेत्रीय गठबंधन है, वहां पर हम सहयोग करेंगे और उनको पावर देंगे. साथ ही उनके कैंडिडेट को मजबूती देंगे. बता दें कि अगले साल फरवरी-मार्च की शुरुआत में यूपी में विधानसभा चुनाव है.

Leave a Reply