Bhabanipur Bypoll : 30 सितंबर को उपचुनाव का ऐलान, जानिए क्यों फंसा था पेच

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पुरानी सीट भवानीपुर (Bhabanipur) में 30 सितंबर को उपचुनाव होगा. चुनाव आयोग ने शनिवार दोपहर को यह जानकारी दी. आयोग ने अधिसूचना में कहा कि तीन अक्टूबर को वोटों की गिनती की जाएगी. इसी तारीख (30 सितंबर) को पश्चिम बंगाल के समसेरगंज, जंगीपुर और पिपली (ओडिशा) में भी उपचुनाव होंगे. तृणमूल कांग्रेस की चीफ ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) भवानीपुर से चुनाव लड़ सकती हैं. हालांकि, चुनाव आयोग ने कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए 31 अन्य सीटों पर चुनाव को टाल दिया है.

चुनाव आयोग ने कहा, “… संवैधानिक आवश्यकताओं और पश्चिम बंगाल के विशेष अनुरोध पर विचार करते हुए विधानसभा क्षेत्र 159 – भवानीपुर के लिए उपचुनाव कराने का निर्णय लिया गया है. कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए आयोग द्वारा COVID से बचाव के लिए भरपूर सावधानी के रूप में बहुत सख्त मानदंड बनाए गए हैं.”

ये भी पढ़ें :-‘बिहार के प्रेमचंद’ और यशस्वी कथाकार : अनूपलाल मण्डल

निर्वाचन आयोग ने आगे कहा, “आयोग ने संबंधित राज्यों के मुख्य सचिवों और मुख्य चुनाव अधिकारियों के विचारों और इनपुट को ध्यान में रखते हुए अन्य 31 विधानसभा क्षेत्रों और 3 संसदीय क्षेत्रों में उपचुनाव नहीं कराने का फैसला किया है.

30 सितंबर को मतदान, 3 अक्टूबर को रिजल्ट

चुनाव आयोग ने फैसला किया है कि भबानीपुर सीट पर 30 सितंबर को उपचुनाव का मतदान होगा. वहीं वोटों की गिनती 3 अक्टूबर को की जाएगी. आयोग ने इसके साथ ही बंगाल की शमशेरगंज, जंगीपुर और ओडिशा की पीपली विधानसभा सीट पर भी चुनाव कार्यक्रम का ऐलान किया है. बताते चलें कि ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनाव के दौरान नंदीग्राम सीट से मैदान में उतरी थीं. लेकिन उन्हें बीजेपी के सुवेंदु अधिकारी से कांटे के मुकाबले में शिकस्त झेलनी पड़ी थी.

ये भी पढ़ें :-जेपी-लोहिया को सिलेबस से हटाने पर नीतीश कुमार हुए नाराज, दिया यह आदेश…

बता दें कि अप्रैल-मई में हुए बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने शानदार जीत हासिल करते हुए 294 सीटों में से 213 पर परचम फहराया था. हालांकि, ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट हार गई थीं. कभी ममता बनर्जी के करीबी रहे और भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने कांटे की टक्कर में ममता को हरा दिया था.

Leave a Reply