दिल्‍ली में प्रदूषण का कहर जारी, राजधानी का AQI 362 रहा; फिलहाल राहत की उम्‍मीद नहीं

नई दिल्ली. दिल्‍ली में प्रदूषण का कहर जारी है.दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में गुरुवार को वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में रही और इसके रविवार तक बेहतर होने की कोई संभावना नहीं है. राजधानी की वायु गुणवत्‍ता में लगातार गिरावट जारी.वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली के अनुसार गुरुवार सुबह दिल्‍ली की वायु गुणवत्‍ता सूचकांक 362 रहा. वायु प्रदूषण के चलते दिल्‍ली सरकार ने सरकार ने अगले आदेश तक स्कूल तथा अन्य शैक्षणिक संस्थान बंद रखने और आवश्यक सेवाओं के अलावा, बाहर से आने वाले वाहनों के शहर में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है.

वायु प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले, वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (सीएक्यूएम) ने मंगलवार देर रात निर्देश दिया था कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान अगले आदेश तक बंद रहेंगे और केवल ऑनलाइन शिक्षा की अनुमति होगी.आयोग ने निर्देश दिया कि दिल्ली के 300 किलोमीटर के दायरे में स्थित 11 पावर प्‍लांट में से केवल पांच प्‍लांट ही 30 नवंबर तक चालू रहेंगे.

वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI), फरीदाबाद में 350, गाजियाबाद में 368, ग्रेटर नोएडा में 358, गुरुग्राम में 354 और नोएडा में 369 रहा और वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में रही. AQI को शून्य और 50 के बीच ‘अच्छा’, 51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 और 300 के बीच ‘खराब’, 301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 और 500 के बीच ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है.

Leave a Reply