‘ध्यानचंद खेल रत्न तो ठीक है, नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम कब बदलेगा?’

नई दिल्ली: टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में भारतीय पुरुष और महिला हॉकी टीम के प्रदर्शन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सर्वोच्‍च खेल पुरस्‍कार ‘खेल रत्‍न’ को हॉकी के जादूगर मेजर ध्‍यानचंद (Hockey legend Dhyan Chand) का नाम देने क ऐलान किया है. पीएम ने एक ट्वीट करके यह जानकारी दी. उन्‍होंने ट्वीट में लिखा, ‘ ‘मेजर ध्यानचंद भारत के उन अग्रणी खिलाड़ियों में से थे जिन्होंने भारत के लिए सम्मान और गौरव लाया, लोगों की भावनाओं को देखते हुए, इसका नाम अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार किया जा रहा है.’

गौरतलब है के खेल रत्‍न पुरस्‍कार पहले ‘राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार’ (Rajiv Gandhi Khel Ratna) के नाम से जाना जाता था. सोशल मीडिया पर लोगों ने इस निर्णय का यह कहते हुए समर्थन किया है कि स्‍पोर्ट्स अवार्ड राजनेताओं के नाम पर नहीं बल्कि खिलाड़ि‍यों के नाम पर ही होने चाहिए. हालांकि वे इस ओर इशारा करने से नहीं चूके कि अहमदाबाद के क्रिकेट स्‍टेडियम का नामकरण पीएम मोदी पर किया गया है. विपक्ष के नेताओं सहित कई यूजर्स ने मांग की कि अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्‍टेडियम का नामकरण भी किसी खेल शख्सियत पर किया जाए.

ये भी पढ़ें :- Bihar Coronavirus Update: आज से अनलॉक-5…खुले स्कूल-कोचिंग संस्थान

प्रधानमंत्री की इसी घोषणा को लेकर ट्विटर यूज़रों ने सवाल उठाए. जानी मानी पत्रकार आरफ़ा ख़ानम शेरवानी ने लिखा, “क्रिकेट के किसी दिग्गज के नाम पर नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलने के लिए ‘भारत भर के नागरिकों से कोई अनुरोध’ नहीं? ऐसे कैसे चलेगा?”

ध्रुव राठी नाम के ट्विटर यूज़र ने लिखा है, ‘राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार का नाम बदलकर मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार करने का मोदी सरकार का बढ़िया फ़ैसला है. अब मुझे उम्मीद है कि वे नरेंद्र मोदी स्टेडियम और जेटली स्टेडियम का भी नाम बदल सकते हैं. सभी राजनेताओं के नाम हटा दें.’

सबा नक़वी ने ट्वीट किया, ‘बस क्रिकेट के किसी दिग्गज के नाम पर नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलने का इंतज़ार है। ज़रूर होगा।’

ये भी पढ़ें : – Tokyo Olympics: भारतीय पहलवान रवि दहिया फाइनल में हारे,बोले- कुछ कमियां हैं

गौरतलब है कि फरवरी 2020 में अहमदाबाद के सरदार पटेल स्‍टेडिययम, जिसे मोटेरा स्‍टेडियम के नाम से भी जाना जाता है, का नामकरण पीएम मोदी पर किया गया था. मोदी गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष भी हर चुके हैं. नरेंद्र मोदी स्‍टेडियम को दुनिया के सबसे विशाल क्रिेकेट स्‍टेडियम होने का रुतबा हासिल है.

Leave a Reply