पहली बार नेपाल हिंदुस्तान को बेचेगा ये चीज, सुनकर बड़े बड़े देशों के उड़ गए होश

नई दिल्ली : नेपाल पहली मर्तबा हिंदुस्तान को प्रतियोगी दरों पर बिजली बेचेगा। हिंदुस्तान ने अपने पड़ोसी मुल्क को भारतीय ऊर्जा विनिमय बाजार में बिजली के बिजनेस की इजाजत दे दी है। विद्युत मंत्रालय के तहत आने वाले एनर्जी एक्सचेंज ने नेपाल की ओर से किए जा रहे पुरजोर प्रयासों के मद्देनजर सोमवार को कारोबार की अनुमति दी है। अब नेपाल विद्युत प्राधिकरण (एनईए) अपनी एक्सट्रा विद्युत को बेचने की स्थिति में होगा।

तो वहीं नेपाल के बिजली मंत्री ने कहा कि सियासी, राजनयिक व प्रशासनिक स्तर पर निरंतर कोशिशों के पश्चात हमें ज्यादा से ज्यादा बिजली बेचने की अनुमति मिली है। ये फैसला दोनों मुल्कों के मध्य ऊर्जा कारोबार में मील का पत्थर साबित होगा।

बिजली मंत्री ने कहा कि आशा है कि जल्द ही हमें अपर तामाकोशी से 456 मेगावाट, मार्सयांगडी से 69 मेगावाट व अपर भोटेकोशी से 45 मेगावाट विद्युत बेचने की इजाजत मिल जाएगी। पहले चरण में भारतीय ऊर्जा विनिमय में 39 मेगावाट बिजली के कारोबार की अनुमति दी गई है।

आपको बता दें कि 24 मेगावाट का उत्पादन एनईए के स्वामित्व वाली त्रिशूली पनबिजली परियोजना और 15 मेगावाट का उत्पादन देवीघाट बिजली घर में होगा। इन दोनों परियोजनाओं का विकास हिंदुस्तान के सहयोग से किया गया है।

Leave a Reply