J&K All Party Meeting : राज्य का दर्जा बहाल करने के मुद्दें पर PM मोदी क्या बोले ? जानिए

नई दिल्ली: प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 में जम्मू-कश्मीर की विशेष स्थिति को समाप्त करने के बाद आज अपने दिल्ली आवास पर जम्मू-कश्मीर के शीर्ष राजनीतिक नेताओं के साथ लगातार तीन घंटे तक बातचीत की. इस बातचीत में राज्य के चार पूर्व मुख्यमंत्रियों समेत कुल 14 नेता शरीक हुए. बैठक में उप राज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री जीतेंद्र सिंह और एनएसए अजीत डोभाल में शामिल रहे. सूत्रो के मुताबिक, ‘पीएम ने जम्मू-कश्मीर के नेताओं से कहा कि वह जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा बहाल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.’

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  • सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर के नेताओं से कहा कि वह ‘दिल्ली की दूरी’ और ‘दिल की दूरी’ को दूर करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन हम सभी को राष्ट्रीय हित में काम करना चाहिए ताकि जम्मू-कश्मीर के लोगों को फायदा हो.
  • पीएम के साथ बैठक में कांग्रेस ने राज्य के दो हिस्सों में बंटवारे का विरोध किया. कांग्रेस की तरफ से पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद, स्टेट यूनिट के चीफ गुलाम अहमद मीर और पूर्व डेप्युटी सीएम तारक चंद ने शिरकत की.
  • हालांकि इस बैठक का कोई विशिष्ट एजेंडा अब तक सामने नहीं आया है लेकिन रिपोर्ट्स के मुताबिक राज्य में निर्वाचन क्षेत्रों का परिसीमन या पुनर्निर्धारण इसमें शामिल हो सकता है क्योंकि जम्मू और कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के बाद विधानसभा चुनाव की दिशा में यह पहला कदम है.
  • गृहमंत्री ने घाटी के विकास का पूरा ब्योरा पार्टियों के सामने रखा कि धारा 370 हटाए जाने के बाद घाटी में किस स्तर के विकास कार्य किए गए हैं. सारी राजनीतिक पार्टियों को भरोसा दिलाया गया कि डीलिमिटेशन प्रक्रिया में सभी राजनीतिक दलों की हिस्सेदारी होगी.
  • उधर, केंद्र सरकार का कहना है कि राज्य का दर्जा बहाल करने पर “उचित समय पर” विचार किया जाएगा, लेकिन वह समय अभी नहीं आया है.

Leave a Reply