Kanwar Yatra : उत्तराखंड की धामी सरकार ने लिया बड़ा फैसला, कांवड़ यात्रा हुई रद्द

नई दिल्ली: उत्तराखंड में कांवड़ यात्रा (Kanwar Yatra) शुरू होगी या नहीं, इस पर सस्पेंस खत्म हो गया है। उत्तराखंड की पुष्कर सिंह धामी सरकार ने इस साल कांवड़ यात्रा को रद्द करने का फैसला लिया है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सरकार ने ये फैसला लिया है।

जीवन की रक्षा सर्वोच्च – धामी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कांवड़ यात्रा के संबंध में सचिवालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में कोविड के डेल्टा प्लस वैरियेंट पाए जाने और कोविड की तीसरी लहर की आशंका व देश-विदेश में इसके दुष्प्रभावों पर गहन विचार-विमर्श किया गया। इस संबंध में विशेषज्ञों की राय पर भी विचार किया गया। सीएम ने कहा कि मनुष्य के जीवन की रक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए आगामी कांवड़ यात्रा  को स्थगित रखने का निर्णय लिया गया। 

ये भी पढ़ें :- Pabiben Rabari की प्रेरणादायक कहानी, 200 महिलाओं को दिया रोजगार

लाखों की तादाद में आते हैं श्रद्धालु

लाखों की संख्या में श्रद्धालु इस यात्रा में शामिल होते हैं। हरिद्वार से लेकर यूपी, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब और दिल्ली तक कांवड़ियों की सुरक्षा के लिए बड़े पैमाने पर इंतजाम किए जाते हैं। इसके चलते इन राज्यों के कई कारोबारियों की इस महीने में काफी आय होती है। हालांकि यात्रा पर रोक लगने से उनके हाथ इस साल भी मायूसी लगी है।

ये भी पढ़ें :-Hool Diwas: एक पूरे परिवार की आज़ादी में दी गयी बलिदानी की कहानी

गौरतलब है कि राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पहले ही कांवड़ यात्रा रद्द करने के संकेत दिए थे। उन्होंने कहा था कि कांवड़ यात्रा आस्था की बात जरूर है, लेकिन लोगों की जिंदगी भी दांव पर नहीं लगाई जा सकती। प्रदेश सरकार ने कांवड़ यात्रा के संचालन पर पहले ही प्रतिबंध लगा रखा है। सचिव शहरी विकास शैलेश बगौली की ओर से बाकायदा इस संबंध में आदेश जारी किया गया था।

Leave a Reply