खुले में नमाज को लेकर मनोहर लाल खट्टर बोले, यह बिल्कुल भी सहन नहीं की जाएगी

पिछले कई दिनों से गुरुग्राम में खुले में नमाज को लेकर विरोध जारी है। इसी कड़ी में आज हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बड़ा बयान दिया है। मनोहर लाल खट्टर ने साफ तौर पर कह दिया है कि खुले में नमाज बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि कोई अगर अपनी जगह पर नमाज पढ़ता है, पाठ पढ़ता है उसमें हमें कोई दिक़्क़त नहीं है। खुले में ऐसे कार्यक्रम नहीं होने चाहिए। नमाज पढ़ने की यह प्रथा जो खुले में हुई है, यह बिल्कुल भी सहन नहीं की जाएगी।

आपको बता दें कि गुरुग्राम के सेक्टर 37 में कई दिनों से नाम आज को लेकर विवाद जारी है। आज भी वहां पर नमाज नहीं पढ़ी गई। नमाज पढ़ने गए मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों को हिंदू संगठन ने वहां से जाने के लिए कहा। इसके साथ ही वहां हनुमान चालीसा का पाठ किया गया और जय श्रीराम के नारे लगाए गए। हिंदू संगठनों की ओर से यह तक ऐलान कर दिया गया है कि नमाज वाली जगह पर शुक्रवार को पूजा की जाएगी और भंडारे का आयोजन किया जाएगा।

इससे पहले खुले में ‘नमाज’ अदा करने के विरूद्ध गुड़गांव में दक्षिणपंथी संगठनों के प्रदर्शन के बीच हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा था कि सभी को उपासना स्थलों के अंदर ही अपना धार्मिक कार्यक्रम करना चाहिए। विज ने अंबाला में संवाददाताओं से कहा कि प्रशासन की अनुमति के बगैर सड़कों पर ऐसे कार्यक्रमों से बचा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हरेक को अपने धर्मस्थल के अंदर ही धार्मिक कार्यक्रम करना चाहिए।

Leave a Reply