NCB की विजिलेंस टीम ने वसूली मामले में समीर वानखेड़े से फिर की 4 घंटे तक पूछताछ

मुंबई एनसीबी के ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े से आज एनसीबी की विजिलेंस टीम ने 4 घंटे से ज्यादा वक्त तक पूछताछ की।  विजिलेंस चीफ ने बताया कि समीर वानखड़े का आज बयान दर्ज किया गया है।  इससे पहले पिछले हफ्ते बुधवार को भी विजिलेंस टीम ने वसूली के आरोपों को लेकर समीर से करीब 4 घंटे तक सवाल जवाब किए थे।

एनसीबी की विजिलेंस टीम ने वसूली का आरोप लगाने वाले प्रभाकर सईल को भी पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन विजिलेंस टीम के चीफ ज्ञानेश्वर सिंह का कहना है कि प्रभाकर सईल से अभी तक संपर्क नहीं हो पाया है।  ज्ञानेश्वर सिंह ने कहा कि प्रभकार इस मामले में बेहद अहम है।  विजिलेंस टीम के सवालों का जवाब देने के बाद जब समीर वानखेड़े बाहर आए तो उन्होंने वहां मौजूद मीडिया से कोई बात नहीं की।

क्या है आरोप

हाल ही में ड्रग्स केस के मुख्य गवाह प्रभाकर सईल ने आर्यन को छोड़ने के लिए केपी गोसावी पर ‘डील’ कराने के आरोप लगाए थे।  प्रभाकर सईल खुद को केपी गोसावी का बॉडीगार्ड बताता है।  प्रभाकर सईल ने दावा किया था कि क्रूज पार्टी रेड के वक्त वह गोसावी के साथ थे।  प्रभाकर ने खुलासा किया था कि केपी गोसावी सैम नाम के शख्स से फोन पर 25 करोड़ रुपये से बात शुरू कर 18 करोड़ में डील फिक्स करने की बात कर रहा था।  केपी गोसावी ने 8 करोड़ रुपये एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े को देने की भी बात कही थी।

सप्लाई चेन को लेकर भारत का चीन पर निशाना, रोम में पीएम मोदी ने दिया फार्मूला

किरण गोसावी का नाम क्रूज ड्रग मामले के बाद सबसे पहले तब सामने आया जब उसने शाहरुख खान के बेटे आर्यन के साथ अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी।  उस समय कई लोगों का लगा ​​था कि वह एनसीबी का अधिकारी है।  एनसीबी ने बाद में साफ किया कि वह एक निजी जासूस और एक प्लेसमेंट एजेंसी का मालिक है और क्रूज मामले में 10 स्वतंत्र गवाहों में से एक है।

Leave a Reply