UP News : 1 जुलाई से खुलने जा रहे हैं स्कूल, अभिभावक इस बात से अनजान

नई दिल्ली: जहां एक तरफ देश में दोबारा से कोरोनावायरस (Coronavirus) फैलने के कारण लॉक डाउन की खबर फैल रही है तो वहीं दूसरी ओर अब यूपी के स्कूल खुलने (School Reopening) जा रहे हैं, नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में एक जुलाई से सभी प्राथमिक और उच्च प्राथमिक खोले जा रहे हैं। वहीं, एक जुलाई से स्कूल खुलने की स्थिति में फिलहाल सिर्फ शिक्षकों और अन्य कर्मचारी ही जाएंगे। विद्यार्थियों को फिलहाल स्कूल जाने की जरूरत नहीं है। पहले की तरह ही छात्र-छात्राओं की ऑनलाइन क्लासेज जारी रहेंगी।

ये भी पढ़ें :- हरियाणा, यूपी और दिल्ली को Metro देगी नई सौगात, 1 जुलाई से शुरू होगी ये लाइन

बच्चों के दाखिले के लिए चक्कर काट रहे हैं अभिभावक

आरटीई के तहत बच्चों का दाखिला कराने के लिए अभिभावक शिक्षा विभाग के कार्यालय से लेकर निजी स्कूलों के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन जिला बेसिक शिक्षा विभाग के कर्मचारी अब भी गहरी नींद में हैं। 15 जून को आरटीई की दूसरी लाटरी निकाली गई थी, जिसके 14 दिन बीत जाने के बाद भी बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से अभिभावकों के लिए लिस्ट जारी नहीं की गई है।

ये भी पढ़ें :- Hool Diwas: एक पूरे परिवार की आज़ादी में दी गयी बलिदानी की कहानी

स्कूल खुलने से अभिभावक हैं अनजान

अभिभावकों को अभी तक इस बात की जानकारी भी नहीं है कि उनके बच्चे को कौन सा स्कूल आवंटित किया गया है ताकि वह स्कूल में दाखिले की प्रक्रिया के लिए जा सके। यही नहीं अभी तक विभाग की तरफ से स्कूलों को पहली लाटरी की लिस्ट भी नहीं भेजी गई है, जिसकी वजह से दाखिले की प्रक्रिया में विलंब हो रहा है। आरटीई लाटरी निकलने के बाद बेसिक शिक्षा कार्यालय के आरटीई विभाग की ओर से खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय में चयनित छात्रों की सूची भेजी जाती है।

इस वर्ष आरटीई की पहली लाटरी 30 मार्च को निकाली गई थी। जिसकी लिस्ट विभाग तक तो पहुंची, लेकिन ज्यादातर स्कूलों के पास अब भी विभाग की ओर से लिस्ट ई-मेल नहीं की गई है, जिस कारण वह अभिभावकों को वापस विभाग के पास भेज रहे हैं।

Leave a Reply